Light Dark

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा

Mahatma Gandhi Antarrashtriya Hindi VishwaVidyalaya,Wardha

(A Central University established by an Act of Parliament in 1997)

पूरा नाम (हिंदी में) डॉ. सुप्रिया पाठक
 
पूरा नाम (अग्रेजी में) Dr.SUPRIYA PATHAK
पिता/पति का नाम डॉ. राजनारायण पाठक
माता का नाम श्रीमती मायावती पाठक
जन्म तिथि 18/01/1983
पदनाम ऐशोसिएट प्रोफेसर एवं अध्यक्ष, स्त्री अध्ययन विभाग
पता/ सम्पर्क

32, एल्गिन रोड,गर्ल हाई स्कूल के सामने

सिविल लाइन, प्रयागराज

पिन- 211001

उत्तर-प्रदेश 

(off) (res) supriya_rajj@yahoo.co.in supriyapathak@hindivishwa.ac.in
वेब पृष्ठ www.hindivishwa.org
विभाग स्‍त्री अध्‍ययन विभाग
वेतन विवरण
शैक्षिक योग्यता

 

पी-एच.डी. (स्त्री अध्ययन)                                                                                               2014

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा

शीर्षक: पारसी हिंदी रंगमंच एवं महिलाएं

एम.फिल. (स्त्री अध्ययन)                                                                                             2005-06

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा

शीर्षक:नक्सल मुद्दे एवं आदिवादी महिला प्रश्न

CGPA: 7.27     Grade- A Minus only

एम.ए. (स्त्री अध्ययन)                                                                                                      2003-05

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा

CGPA:  7.44    Grade- A Minus only                                                                     

शीर्षक:विज्ञापनों में स्त्री चित्रण

बी.ए. (प्रतिष्ठा)                                                                                                               1998-2001     

(कार्यालय प्रबंधन में प्रतिष्ठा)                                                                     

एस.एम.कॉलेज, ति.मां. भागलपुर विश्वविद्यालय

प्राप्तांक: 88.00%

 

तकनीकी शिक्षा

दो वर्षीय कम्प्यूटर                                                                                                            2003-05

लीला, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा

Grade- A Minus only

 

कैरियर प्रोफाइल
  • 20 मार्च 2020 से ऐशोसिएट प्रोफेसर, स्त्री अध्ययन विभाग, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा ।
  • 20 मार्च 2007 से 20 मार्च 2020 तक सहायक प्रोफेसर स्त्री अध्ययन विभाग, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा।
  • अप्रैल  से अक्टूबर 2006, कार्यक्रम अधिकारी, रूम टू रीड,नई दिल्ली ।
  • जुलाई 2005 से अप्रैल 2006, परियोजना सहायक, निरंतर,नई दिल्ली ।

 

प्रशासनिक अनुभव
  • वर्तमान

    • सदस्य, अध्ययन मंडल, क्रांतिज्योती बहिणाबाई चौधरी नॉर्थ महाराष्ट्र विश्वविद्यालय, जलगांव ।
    • सदस्य, अध्ययन मंडल, संत गाडगे बाबा अमरावती विश्वविद्यालय, अमरावती ।
    • सदस्य, अध्ययन मंडल, तुकडोजी महराज नागपुर विश्वविद्यालय, नागपुर ।
    • सदस्य, अध्ययन मंड़ल, डॉ. बी.आर. अम्बेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय, महु ।
    • अ‍धीक्षिका, शिशु विहार, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।

    पूर्व

    • सचिव, फैकल्टी एवं ऑफिसर्स कल्ब, म. गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • समन्वयक, जेंडर संवेदनशीलता समिति, म. गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सदस्य, महिला उत्पीड़न के विरुद्ध समिति, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सह- संयोजक, राष्ट्रीय सेवा योजना, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा ।
    • छात्रावास अ‍धीक्षिका, सावित्रीवाई फुले महिला छात्रावास, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सदस्य, पूर्व छात्र संघ एवं पालक प्रकोष्ठ, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सदस्‍यपी-एच.डी. अध्यादेश पुनर्विचार समिति, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा ।
    • सदस्य, ज्ञान संवर्धन समिति, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सदस्य, अनुशासन समिति, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सदस्य, छात्र कल्याण परिषद, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सदस्य, छात्र कल्याण समिति, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सदस्य, कार्य परिषद की उप-समिति, म.गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
    • सदस्य, विभागीय शोध समिति, स्त्री अध्ययन विभाग, म. गां.अ.हि.वि.वर्धा ।
विशेषज्ञता
  • राष्ट्रवाद, उपनिवेशवाद एवं जेंडर
  • नारीवादी सिद्दांत 
  • स्त्री एवं मीडिया
  • सिनेमा
  •  स्‍त्री एवं  रंगमंच
  • भाषा एवं साहित्‍य
  • नारीवादी शोध प्रविधि
पढाया गया विषय

एम.ए.

प्रथम सत्र- सिनेमा

द्व्तीय सत्र- स्वास्थ्य एवं महिलाएं

तृतीय सत्र- राष्ट्रवाद, उपनिवेशवाद एवं जेंडर

चतुर्थ सत्र- नारीवादी सिद्दांत 

एम.फिल.

प्रथम सत्र-  आलोचनात्मक नारीवादी सिद्दांत 

पी.जी.डिप्लोमा

स्त्री एवं मीडिया

स्त्री अध्ययन क्यों

 

शोध मार्गदर्शक

पी-एच.डी शोध प्रबंध

अतुल कुमार मिश्र

ज्ञान और विज्ञान के विविध विमर्श : जेंडर परिप्रेक्ष्‍य 

श्री मनीष कुमार सिंह               

औपनिवेशिक उत्तर भारत की महिला विषयक हिन्‍दी पत्रिकाओं में स्‍त्री विमर्श (1910-1948)

श्री साकेत बिहारी

(विपंजीकृत)

बिहार शिक्षा परियोजना (विशेष संदर्भ : राष्‍ट्रीय स्‍तर पर बालिकाओं की प्राथमिक शिक्षा)

सुश्री कीर्ति शर्मा

फुटपाथ की बच्चियाँ : जीवन-संघर्ष एवं चुनौतियाँ

सुश्री प्रीतिमाला

स्‍त्री-पुरूष प्रेम संबंधों का वर्तमान यथार्थ

चरनजीत (शोधरत)

मेघालय की मातृवंशीय खासी जनजाति की एकल माताओं का नारीवादी दृष्टि से वैयक्तिक अध्ययन

श्वेता द्विवेदी (शोधरत)

ऑनलाइन शिक्षण तकनीकी का छात्रों की शैक्षिक उपलब्धि, शिक्षण विधि और मूल्यांकन का अध्ययन

 

एम.फिल. लघु शोध प्रबंध

सुनिता कुमारी  

‘मातृदेवियों की अवधारणाएं’ (विशेष संदर्भ : महराजगंज जिला सदर तहसील)

चैतान सोरेन

यूरेनियम खनन से पर्यावरण और महिलाओं पर प्रभाव (विशेष संदर्भ : जादूगोडा, पूर्वीसिंहभूम)

रीता बावनथरे

पारंपारिक चिकित्‍सा और महिलाएं

अस्मिता राजुरकर

अस्‍पतालों में परिचारिकाओं की स्थिति : एक अध्‍ययन (वर्धा जिले के विशेष संदर्भ में)

सुशीला

चिकित्‍सा पद्धति में दाई महिलाओं का ऐतिहासिक योगदान (विशेष संदर्भ : महराजगंज)

अतुल कुमार मिश्र

सबाल्‍टर्न और विज्ञान : ज्ञान, सत्‍य, यथार्थ एवं जेंडर विमर्श

ममता वाईकर

मातृत्‍व की विभिन्‍न नारीवादी विचारधाराएँ

पूजा प्रजापति

बाल्‍मीकि रामायण और ‘रामचरित्र मानस की सीमा का अध्‍ययन’

मनीष कुमार सिंह

औपनिवेशिक उत्तर भारत में स्‍त्री चेतना  ‘‘स्‍त्री दर्पण ‘पत्रिका के विशेष संदर्भ में’ 

योगेश सिंह कुशवाहा

महिला सशक्तिकरण में गांधी का योगदान

रजनीश अम्‍बेडकर

वेश्‍यावृत्ति अध्‍ययन : हरदोई जिले के विशेष संदर्भ में

कीर्ति शर्मा

बाल-यौन अपराध : एक विश्‍लेषणात्‍मक अध्‍ययन

मनोज कुमार गुप्‍ता

महिलाओं के विरूद्ध हिंसा : एसिड अटैक के विशेष संदर्भ में

प्रीतिमाला सिंह

हिंदी सिनेमा में सौंदर्य संरचना की राजनीति

सतपाल यादव

महिला अपराधों के नियंत्रण में महिला सहायता नंबरों की भूमिका विशेषतया इलाहाबाद शहर के परिप्रेक्ष्‍य में

अंजु रानी

भूमंडलीकरण का श्रमिक महिलाओं पर प्रभाव

श्‍याम प्रकाश

भोजपुरी सिनेमा का बदलता स्‍वरूप और स्‍त्री (2002 से 2014 के संदर्भ में)

नीलम

यौनिकता, पितृसत्ता और जेंडर का अंतर संबंध (अन्हियारे तलछट में चमका की नजर से)

शिवानी राय

श्रम का जेंडरीकरण : मनेरगा का मूल्‍यांकन

अनुषा प्रियदर्शनी

विकलांगता का जेंडर विमर्श और दृष्टिहीन महिलाएं

ज्‍योति गिरी

स्त्रियों के विरूद्ध हिंसा विशेष संदर्भ : सामूहिक बलात्‍कार’’

अलका

बिहार शिक्षा परियोजना (विशेष संदर्भ : राष्‍ट्रीय स्‍तर पर बालिकाओं की प्राथमिक शिक्षा की स्थिति)

मेघा

भारत और उसके पड़ोसी देश-साहित्‍य में स्‍त्री प्रतिरोधी स्‍वर

राम सिंह

घरेलू महिलाओं की आत्‍महत्‍या : एक नारीवादी अध्‍ययन (विशेष संदर्भ : लखीमपुर-खीरी जनपद)

कु. अनिता

हिंदी सिनेमा साहित्‍य में यौनिकता का विमर्श

माधवी धुर्वे

वर्धा शहर में महिलाओं के प्रजनन स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति दृष्टिकोण

अनुराधा

अनामिका की कविताओं में स्‍त्री

पुष्‍पेद्र सिंह

बुंदेलखण्‍ड की दलित महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण का यथार्थ 

 

एम.ए. परियोजन कार्य

राजकुमार

हिन्‍दी सिनेमा में स्‍त्री की बदलती छवि : आलोचनात्‍मक अध्‍ययन

चरनजीत

सीमा क्षेत्र में महिला प्रश्‍न : गुरदासपुर जिले के विशेष संदर्भ में

आनंद गोडघाटे

निजी-सार्वजनिक विमर्श : वास्‍तुकला के संदर्भ में

रीता बावनथरे

बहिणाबाई चौधरी एक अनसुनी आवाज

सुषमा पाण्‍डेय

अवधी लोकगीत (व्‍यवस्‍था का स्‍वीकार या अस्‍वीकार)? :

अंशुमाला राय

जाति, वर्ग एवं जेंडर के अंतरसंबंध ‘शिकंजे का दर्द’ और ‘कस्‍तूरी कुण्‍डल बसै’ के आधार पर

राजलक्ष्‍मी

हाशिये की महिलाएं, राज्‍य और यौनिक हिंसा (सोनी सोरी के विशेष संदर्भ में) 

प्रीतिमाला

भारतीय ‘समानांतर सिनेमा’ की स्‍त्री-निर्देशित फिल्‍में और स्‍त्री-छवि का रूपायन (विशेष संदर्भ : दीपा मेहता और अपर्णा सेन)

संतोष पाण्‍डेय

हिन्‍दी धारावाहिकों में स्‍त्री चित्रण        

शिल्‍पा भगत

वृद्ध महिलाओं का सामाजिक मनोविश्‍लेषण (विशेष संदर्भ : वर्धा)

श्‍याम प्रकाश

औपनिवेशिक काल में महिलाएँ और विस्‍थापन (विशेष संदर्भ : अफ़ीम सागर)

डिम्‍पल

स्वतंत्रता के उपरान्‍त जेंडर के आधार पर राष्‍ट्रीय व अंतरराष्‍ट्रीय महिलाओं की अभिव्‍यक्ति विशेष संदर्भ : हिन्‍दू कोड बिल के मुद्दे व पंचवार्षिक योजनायें        

चेतना शुक्‍ला

हिंदी सिनेमा में समलैंगिकता का चित्रण

प्रिती पोकळे

उन्‍नत भारत अभियान के तहत विश्‍वविद्यालय द्वारा गोद लिए गये गांव का जेंडर परिप्रेक्ष्‍य में अध्‍ययन

प्रियंका भारती

 

पी.जी. डिप्‍लोमा परियोजना कार्य

निड्थौजम प्रियोबती देवी 

‘इमा कैथेल’ और मणिपुरी महिलाएँ

कल्‍पना वानखेडे

विज्ञापन और महिलाएं वर्धा शहर में लगे होर्डिग के संदर्भ में

स्‍नेहलता नगराले

आंगणवाडी में चल रही ग्रामीण किशोरी शक्‍ती योजना का मूल्‍यांकन (संदर्भ : सिंदी मेघे)

शोभा बिसेन

महिलाओं के विरूद्ध हिंसा और अखबारी रुख (विशेष संदर्भ : हिन्‍दी ‘लोकमत समाचार’ और मराठी ‘लोकमत’

बलराम राम

मीडिया के आईने में स्‍त्री विमर्श : एक अध्‍ययन

श्रीकांत बोरकर

आंबेडकर और गांधी के दर्शन में स्‍त्री चिंतन

भगवत प्रसाद पटेल

उत्तर प्रदेश के लोकनाटय नौटंकी में दर्शकों की निगाह में स्‍त्री छवि

आरती कुमारी

मुस्लिम समाज में निकाह और महिलाएं

विनिता यादव

भारत में कुपोषण निवारण की नीतियाँ : महिला कुपोषण निवारण के विशेष संदर्भ में

सतपाल यादव

 

 

 

प्रकाशन वर्णन
  1. पुस्तक

(2022). मीराबेन: गांधी की सहयात्री, जयपुर: प्राकृत भारती संस्थान ।

(2022). स्त्री एवं प्रकृति : स्त्रीवादी पर्यावरण विमर्श की भूमिका, जयपुर: प्राकृत भारती संस्थान ।

(2020). भारतीय स्त्रियों का अहिंसक प्रतिरोध, जयपुर: प्राकृत भारती संस्थान ।

(2018). नारीवादी विमर्श: विविध परिपेक्ष्य, दिल्ली: प्रकाशन संस्थान ।

(2017). स्त्री एवं रंगमंच, नई दिल्ली: राजकमल प्रकाशन ।

(2017). धर्म एवं जेंडर: धर्म संस्‍था के जरिए जेंडरगत मानस का निर्माण, (सह-संपादन), नई दिल्ली: राजकमल प्रकाशन ।

  1. पुस्तक में अध्याय :

(2019). भारत में विकलांगता का नारीवादी विमर्श, Reinventing Divyang: Towards Social Inclusion, सं- सुषमा मिश्रा, नई दिल्ली : शिवालिक प्रकाशन ।

(2018). अकादमिक स्त्रीवादी आलोचना के साहित्यिक सरोकार, वर्तमान परिपेक्ष्य में सौन्दर्यशास्त्र के नए आधार सं- घनश्याम शर्मा, नई दिल्ली : अनुज्ञा बुक्स ।

 (2013). गांधीजी का स्त्री शिक्षा दृष्टिकोण : एक स्त्रीवादी नोट, बुनियादी तालीम, सं- ए.अरविंदाक्षन एवं मिथिलेश, नई दिल्ली : राजकमल प्रकाशन ।

  1. विश्वकोश में प्रविष्टि :

(2013). अश्‍वेत नारीवाद, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-1, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 100-101.

(2013). नारीवाद, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड -3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 783-785.

(2013). नारीवाद की पहली लहर, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 785-786

(2013). नारीवाद की दूसरी लहर, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 787-789.

(2013). नारीवाद की तीसरी लहर, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 789-791.

(2013). नारीवादी इतिहास-लेखन, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 796-797.

(2013). पब्लिक - प्राइवेट, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 842-844.

(2013). पर्यावरणीय नारीवाद, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड -3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 844-846.

(2013). पितृसत्ता, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड -3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 877-879.

(2013). पुरुषत्व, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड -3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 887-888.

(2013). प्रजनन- प्रौद्योगिकी, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-3, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ.,  903-904.

(2013). स्‍त्री अध्‍ययन, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-6, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 1938-1940.

(2013). स्‍त्री श्रम, समाज विज्ञान विश्‍वकोश, खंड-6, सं.- अभय कुमार दुबे, राजकमल प्रकाशन, दिल्‍ली, पृ., 1943-1945.

(2010). पित्तृसत्ता के विविध रूप, अहिंसा विश्‍वकोश,  सं.- नंद किशोर आचार्य, प्राकृत भारती अकादमी, जयपुर, पृ., 521-524.

(2010). पर्यावरणीय नारीवाद, अहिंसा विश्‍वकोश,  सं.- नंद किशोर आचार्य, प्राकृत भारती अकादमी, जयपुर, पृ., 732 -734.

  1. ईकाई लेखन

(2019). इतिहास में स्त्रियों की अदृश्यता, दूरस्थ शिक्षा निदेशालय, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय ।

(2019). इतिहास लेखन में लैंगिकता, दूरस्थ शिक्षा निदेशालय, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय ।

(2019). नारीवादी इतिहास लेखन की आवश्यकता, दूरस्थ शिक्षा निदेशालय, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय ।

  1. राष्ट्रीय जर्नल में शोध आलेख :
  • केयर लिस्ट में शामिल

(2021). कोविड महामारी  के दौरान असंगठित क्षेत्र की महिलाओं के मानवाधिकार, मानवाधिकार: नई दिशाएँ,  अंक: 18, पृ-  ।

(2020). कोविड 19: जेंडर, प्रजनन स्वास्थ्य एवं न्याय का मानवाधिकार, मानवाधिकार: नई दिशाएँ, अंक: 17, पृ- 259-265 ।

(2020). हिंदी कथा साहित्य की अदृश्य स्त्रियां, मधुमति, वर्ष,- 60, अंक-2, पृ-78-85 , बीकानेर: राजस्थान साहित्य आकादमी ।

(2019). साहित्यिक रचनाओं में ‘नागरिक’स्त्री और राष्ट्र का अंतर्संबंध, मधुमति, वर्ष- 59, अंक-7, पृ-87--97, बीकानेर: राजस्थान साहित्य आकादमी ।

(2018). मानवाधिकार का सार्वभौमिक परिपेक्ष्य एवं स्त्री, मानव अधिकार: नई दिशाएँ, अंक-15, पृ-59-68, दिल्ली: राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ।

(2016). भारत में जेंडर संवेदी बजट का यथार्थ, मानव अधिकार: नई दिशाएँ, अंक-13, पृ-87--97, दिल्ली: राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ।

(2014). प्रतिरोध की संस्कृति, नुक्कड नाटक और महिलाएं, बहुवचन, अंक-42, पृ-139-150, म.गा.अं.हि.वि.वर्धा

  •  पुनर्समीक्षित आलेख

(2019). कस्तुरबा: गांधी के आंदोलन की सहयात्री, अंतिम जन, बर्ष-1,अंक-4, पृ-32--35, नई दिल्ली : गांधी स्मृति एवं दर्शन समिति ।

(2018). स्त्री अध्ययन का वर्तमान भारतीय परिदृश्य, Interdisciplinary Journal of Contemporary Research, Vol.5 No.16 October, 2018, आसाम:एस.के.सी, स्कूल ऑफ इंग्लिश एंड फॉरन लैग्वैज ।

(2018). स्त्रियाँ एवं रंगमंच: पारसी रंगमंच से नुक्कड नाटकों तक का सफर, Shodh-Dristi, Vol.9 No.16 October, 2018, वाराणसी: सृजन समिति प्रकाशन ।

(2018). हिंदी साहित्य में स्त्री विमर्श एवं समकालीन चुनौतियाँ, Interdisciplinary Journal of Contemporary Research, Vol.5 No.20 December, 2018 असम: एस.के.सी, स्कूल ऑफ इंग्लिश एंड फॉरन लैग्वैज ।

(2018). एसिड हमले की शिकार औरते: गुमनाम होती जिंदगियाँ, Shodh-Dristi, Vol.9 No.20 November, 2018, वाराणसी: सृजन समिति प्रकाशन ।

(2018). मिथकों में स्त्री अस्मिता और भीष्म साहनी, Interdisciplinary Journal of Contemporary Research, Vol.5 No.18 November, 2018, आसाम:एस.के.सी,स्कूल ऑफ इंग्लिश एंड फॉरन लैग्वैज ।

(2017). राष्ट्र, आख्यान एवं राष्ट्रवाद की परिधि में जेंडर के प्रश्न, हिंदी समय, म.गा.अं.हि.वि.वर्धा ।

(2017). राष्ट्र, राष्ट्रवाद एवं जेंडर का सवाल, युवा संवाद, अंक-169, अप्रैल-2017, दिल्ली ।

  1. पत्रिकाओं में आलेख :

(2021). स्वतंत्रता आंदोलन में स्त्रियों की भुमिका, न्यूज टाइम्स पोस्ट लखनऊ बर्ष-06, अंक 04, 01-15 अक्टूबर 2021, पृ- 12-13 ।

(2021). भारत में स्त्रियों की स्थिति, न्यूज टाइम्स पोस्ट लखनऊ बर्ष-05, अंक 16, 16-31 जनवरी 2021, पृ- 17-18 ।

(2020). स्वाधीनता संग्राम और कस्तुरबा, सोच विचार, वाराणसी. बर्ष-11, जून 2020, अंक-13,  पृ- 53-54 ।

(2015). ‘शिक्षा एवं जेंडर के प्रश्न, संवर्धन, अंक 2, शिक्षा विद्यापीठ: महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा ।

(2013). ‘पारसी हिंदी रंगमंच एवं महिलाएं’, लोकमत दिपावली विशेषांक, अंक-2013, नागपुर ।

(2012). ‘पारसी हिंदी रंगमंच’, युग-परिबोध, संपादक-आंनद प्रकाश अंक-4, नई दिल्ली ।

(2012).साहित्यिक एवं सैद्धांतिक स्त्री विमर्श के द्वंद’, युग-परिबोध, संपादक-आंनद प्रकाश अंक-2, नई दिल्ली ।

 

सम्मेलन और अध्ययन गोष्ठी का आयोजन

संगोष्टी/ कार्यशाला का आयोजन

शीर्षक

प्रकार

तिथि/स्थान

आयोजक

स्त्री अध्ययन में शोध प्रविधि

कार्यशाला

26-29 सितंबर, 2013

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

महिला एवं कानून

कार्यशाला

09-11 अप्रैल 2015

पार्टनर्स फॉर लॉ इन डेवलेपमेंट (PLD), नई दिल्ली

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

जेंडर और शिक्षा

कार्यशाला

04-10 अक्टूबर 2015

निरंतर, नई दिल्ली

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

जेंडर एवं स्वास्थ्य

कार्यशाला

18-20 नवंबर 2015

समा (SAMA: Resource Group for Women and Health)

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

मध्य भारत में देशज संस्कृति, भाषा एवं जेंडर के प्रश्न

कार्यशाला

29-31 मार्च 2016

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

कार्यस्थल पर यौन हिंसा

कार्यशाला

2017

जेंडर संवेदनशीलता समिति एवं स्त्री अध्ययन विभाग.

‘मुक्तिबोध एवं स्त्री प्रश्न’

राष्ट्रीय संगोष्ठी

9 अगस्त, 2017

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

कस्तूरबा के नाम: आजादी का आंदोलन एवं महिलाएं

 

राष्ट्रीय संगोष्ठी

4-5 अक्टूबर,2017

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय के स्त्री अध्ययन विभाग व गांधी स्मृति एवं दर्शन समिति

राजनीति में स्त्रियाँ

 

राष्ट्रीय संगोष्ठी

21 दिसंबर,2017

 

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

राष्ट्रीय  मानवाधिकार प्रशिक्षण कार्यक्रम

कार्यशाला

18/01/2018

को स्त्री अध्ययन विभाग तथा राष्ट्रीय मानवाधिकार नई दिल्ली

जेंडर संवाद कार्यक्रम

कार्यशाला

जनवरी, 2018

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

महाश्वेता देवी स्मृति व्याख्यानमाला कार्यक्रम

व्याख्यानमाला

-

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

शोध कार्य में सामाजिक प्रतिनिधित्व का सिद्धांत

राष्ट्रीय संगोष्ठी

11 दिसंबर 2018

 

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

जेंडर समानता की गांधीवादी दृष्टि: सामर्थ्‍य, संभावनाएं एवं चुनौतियां

राष्ट्रीय संगोष्ठी

28-30 मार्च, 2019

भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

जेंडर संवेदनशीलता

कार्यशाला

20-21 जनवरी 2020

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

 स्री एवं स्वास्थ्य

 

राष्ट्रीय संगोष्ठी

06 मार्च 2020

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

कोविड-19 के दौरान कामकाजी स्त्रियों की स्थिति

राष्ट्रीय संगोष्ठी

19 जून 2020

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

कानून, जेंडर न्याय एवं परम्परा में सम्बन्ध का पुनर्मूल्यांकन

राष्ट्रीय संगोष्ठी

9 मार्च, 2021     

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

कोरोना काल में स्त्रियों के प्रजनन स्वास्थ्य की स्थिति विशेष सन्दर्भ: वर्धा जिला

राष्ट्रीय संगोष्ठी

23 जून, 2021

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

भारतीय सिनेमा में स्त्री

राष्ट्रीय संगोष्ठी

26 जून 2021

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

कोविड काल में स्त्री एवं मीडिया

राष्ट्रीय संगोष्ठी

30 जून 2021

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

लक्ष्मीबाई केलकर की 116वी जयंती पर एक

 दिवसीय राष्ट्रीय वेबिनार

राष्ट्रीय संगोष्ठी

19 जुलाई 2021

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय

 

 

अनुसन्धान परियोजना

वित्तीय प्रदाता

विश्वविद्यालयअनुदान आयोग, नयी दिल्ली

भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान परिषद, नयी दिल्ली

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा

शोध पूर्ण

पारसी रंगमंच एवं महिलाएं,

2013-14.

(कनिष्ठ शोध परियोजना)

Media Images and Livid Realities: The Case of Women on Periphery

Research Programme Under ICSSR (IMPRESS)

  • ग्रामीण भारत में महिला सशक्तिकरण : विशेष संदर्भ साठोरा गांव,वर्धा जिला (2006)
  • शिक्षा, जेंडर एवं राष्ट्रीय नीतियाँ : एक नारीवादी अध्ययन, (2014-15).  

शोधरत

 

Impact of Short term and sustained support resilience building programme on women empowerment community-based Custer trial, Nagpur district, Maharashtra

 

 

पुरस्कार

गौरव सम्मान पुरस्कार, 2021

व्यावसायिक संगठनों के साथ एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, भारतीय महिला अध्ययन संघ
अतिरिक्त गतिविधि

संगोष्टी/ कार्यशाला में प्रपत्र वाचन                                                                                                           

शीर्षक

प्रकार

तिथि/स्थान

आयोजक

दृश्य की भाषा : भारतीय मीडिया का लैंगिक दृष्टिकोण

राष्ट्रीय

28-30, जनवरी, 2020

भारतीय स्त्री अध्ययन संघ, नई दिल्ली

वर्तमान समय में स्त्री अध्ययन केंद्रों का परिदृश्य

राष्ट्रीय

23-24 मार्च, 2019, नई दिल्ली

आर्यभट्ट कॉलेज तथा वुमेन रिसोर्स सेंटर, पुणे

Women as Youth: Prospective from India

अंतरराष्ट्रीय

17 फरवरी, 2019, नागपूर

मातृ सेवा संघ समाज कार्य केंद्र नागपूर तथा सपोर कॉलेज इजराएल एवं महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालयवर्धा।

अदृश्य होती जिंदगियां: भारत में स्त्रियों पर तेजाबी हमले

राष्ट्रीय

8 से 9 मार्च 2018, गुरुग्राम

नार्थ केप युनिवर्सिटी,  गुरुग्राम  एवं भारतीय विश्वविद्यालय संध, नई दिल्ली

Women as a Partner in Community Development

अंतरराष्ट्रीय

18 फरवरी, 2018, नागपूर

मातृ सेवा संघ समाज कार्य केंद्र नागपूर तथा सपोर कॉलेज इजराएल एवं महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालयवर्धा।

स्त्री के विरुद्ध घरेलू हिंसा : विशेष संदर्भ वर्धा जिला

 

अंतरराष्ट्रीय

26 फरवरी, 2017 नागपूर

मातृ सेवा संघ समाज कार्य केंद्र नागपूर तथा सपोर कॉलेज इजराएल एवं महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालयवर्धा।

राष्ट्र, राष्ट्रवाद और जेंडर का सवाल

राष्ट्रीय

26-27 नवंबर, 2016

म.गा.अ.हि.वि.वर्धा एवं आई.सी.एस.एस.आर, दिल्ली

भारत में जेंडर संवेदनशील बजट का यथार्थ

राष्ट्रीय

19- 20  सितम्बर 2016, हैदराबाद

ए.आई.यू. दिल्ली एवं मौ. आ.रा.उर्दू विश्वविद्यालय,  हैदराबाद

भीष्म साहनी के रचनात्मक संसार की स्त्रियाँ

राष्ट्रीय

14- 15  सितम्बर 2016, नैनीताल

म.गा.अ.हि.वि.वर्धा एवं महादेवी वर्मा सृजन पीठ, कुमाऊँ विश्वविद्यालय

विस्थापन और स्त्री: मानवाधिकार का परिपेक्ष्य

राष्ट्रीय

16- 17  अप्रैल 2016, वर्धा

म.गा.अ.हि.वि.वर्धा

भारतीय कृषि यथार्थ का स्त्री विमर्श

अंतरराष्ट्रीय

14 फरवरी 2016,

नागपुर

मा. से. सं. समाज कार्य संस्थान, नागपुर, म.गा.अ.हि.वि., वर्धा एवं सोपेर कॉलेज, इजराइल.

मीडिया का राजनीतिक अर्थशास्त्र

राष्ट्रीय

18- 20  जनवरी 2016, वर्धा

म.गा.अ.हि.वि.वर्धा एवं आई.सी.पी.आर, दिल्ली

शिक्षा, जेंडर एवं ज्ञानमीमांसा के प्रश्न

राष्ट्रीय

28- 29   मार्च 2015, वर्धा

म.गा.अ.हि.वि.वर्धा एवं आई.सी.एस.एस.आर, दिल्ली

स्वामित्व पर नियंत्रण का सवाल: नारीवादी परिपेक्ष्य

राष्ट्रीय

28- 30   सितम्बर 2013, वर्धा

भारतीय गांधी अध्ययन समिति

गांधीजी का स्त्री शिक्षा दृष्टिकोण

अंतरराष्ट्रीय

30-31 मार्च 2012,

वर्धा

म.गा.अ.हि.वि.वर्धा एवं आई.सी.एस.एस.आर, दिल्ली

भोजपुरी लोकगीतों का वर्चस्वशाली एवं प्रतिरोधी स्वरूप

राष्ट्रीय

20-24 जनवरी 2011, वर्धा

भारतीय स्त्री अध्ययन संघ सम्मेलन

राज्य, हिंसा एवं आदीवासी स्त्री

राष्ट्रीय

20-24 जनवरी 2011, वर्धा

भारतीय स्त्री अध्ययन संघ सम्मेलन

हिंद-स्वराज का स्त्रीवादी पाठ

राष्ट्रीय

12-14 नवम्बर 2009, वर्धा

म.गा.अ.हि.वि.वर्धा एवं आई.सी.एस.एस.आर, दिल्ली

नारीवादी शोध प्रविधि

राष्ट्रीय

7-10 फरवरी, 2008, लखनऊ

भारतीय स्त्री अध्ययन संघ सम्मेलन

ज्ञान के नए शितिज के रूप में स्त्री अध्ययन

राष्ट्रीय

26-31 दिसम्बर 2007, मुम्बई

भारतीय समाज विज्ञान अकादमी

 

 

रिफ्रेसर/ओरिएनटेंशन/ शोध प्रवधि कार्यशाला

  1. संकाय सम्बर्धन कार्यक्रमगांधी सिद्धांत एवं अभ्यास, पंडित मदन मोहन मालवीय राष्ट्रीय शिक्षक एवं शिक्षण मिशन, शिक्षा विद्यापीठ एवं महात्मा गांधी फ्यूजी गुरुजी सामाजिक कार्य अध्ययन केंद्र, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय, वर्धा, 17-23 दिसंबर, 2019 ।
  2. ग्रामीण सामुदायिक सहभागिता पर दस दिवसीय राष्ट्रीय संकाय विकास कार्यशाला, महात्मा गांधी फ्यूजी गुरूजी सामाजिक कार्य अध्ययन केन्द्र, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा एवं महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद (मानव संसाधन विकास मंत्रालय), हैदराबाद, 12-21 फरवरी, 2019 ।
  3.  सामुदायिक सहभागिता वं सामाजिक उत्तरदायित्व पर रणनीति निर्माण, पर आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला, महात्मा गांधी फ्यूजी गुरूजी सामाजिक कार्य अध्ययन केन्द्र, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा एवं राष्ट्रीय ग्रामीण संस्थान परिषद (मानव संसाधन विकास मंत्रालय), हैदराबाद, 26-27 मार्च 2017 ।
  4. पुनश्वचर्या कार्यक्रमगांधी दर्शन एवं ग्राम विकास, 09 फरवरी- 01 मार्च 2017, मानव संसाधन केंद्र, राष्ट्र्संत तुकडोजी महराज मागपुर विश्वविद्यालय, नागपुर एवं गांधी स्मृति एवं दर्शन समिति, नई दिल्ली ।
  5. शिक्षण प्रविधि तथा कक्षा अध्‍यापन में आईसीटी का अनुप्रयोग पर आयोजित प्रशिक्षण कार्यशाला, संचार एवं मीडिया अध्‍ययन केंद्र, म.ग.अ.हि.वि., वर्धा, 28 जुलाई – 03 अगस्‍त 2014 ।
  6. स्त्री अध्ययन में शोध प्रविधि कार्यशाला,सीड्ब्लूडीएस, 23-29 सितम्बर, 2013 ।
  7. थिएटर एपरिएसंन कोर्स, नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा, 26 मई-09 जून  2010 ।
  8. अभिविन्यास कार्यक्रम, कुमांऊ विश्वविद्यालय, 14 अप्रैल-11मई 2010 ।
  9. पुनश्वचर्या कार्यक्रम, स्त्री अध्ययन, जादवपुर विश्वविद्यालय, 07-28 जनवरी 2008 ।

 विशेष व्याख्यान

  1. 30 मार्च 2022, भारतीय स्त्री विमर्श की संकल्पना, आर्य महिला पीजी कॉलेज, वाराणसी।
  2. 23 मार्च 2022, भोजपुरिया समाज और आज के स्त्री, बुधवार बैठकी, यायवरी वया भोजपुरी, जमशेदपुर।
  3. 11 मार्च 2022, स्त्री प्रश्नों के समसामयिक संदर्भ, सरोजिनी नाएडू सेंटर फॉर बुमेन स्टडी, जामिया मीलिया विश्वविद्यालय, नई दिल्ली ।
  4. 08 मार्च 2022, एक स्थायी कल के लिए आज लैंगिक समानता, मगध विश्वविद्यालय, बोधगया, बिहार ।
  5. 03 मार्च 2022, अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की प्रासंगिकता, सिंद्धु कानु मुर्मु विश्वविद्यालय, दुमका।
  6. 25 फरवरी 2022, Notion of Patriarchy in Indian Context, भारतीय स्त्री शक्ति, पुणे।
  7. 19 फरवरी 2022, Concept of Patriarchy, भारतीय स्त्री शक्ति, पुणे।
  8. 24 दिसम्बर 2021, Women Empowerment in Science and technology, डॉ. बी.आर. अम्बेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय, महु ।
  9. 08 दिसम्बर 2021, आधी आबादी: आधी भागीदारी, हिंदी एवं तुलनात्मक साहित्य विभाग एवं महिला अध्ययन केंद्र, केरल विश्वविद्यालय ।
  10. 24 नवंबर 2021, मोड्युल-ए, क्षमता संवर्धन एवं व्यक्तित्व विकास कार्यकम, राष्ट्रीय महिला आयोग एवं नॉन- कॉलेजिएट बुमेन ऐजुकेशन बोर्ड, दिल्ली विश्वविद्यालय ।
  11. 22 नवंबर 2021, मोड्युल-बी, क्षमता संवर्धन एवं व्यक्तित्व विकास कार्यकम, राष्ट्रीय महिला आयोग एवं नॉन- कॉलेजिएट बुमेन ऐजुकेशन बोर्ड, दिल्ली विश्वविद्यालय ।
  12. 28 नवंबर 2021, मुख्य वक्ता, राष्ट्र के सामाजिक उत्थान में महात्मा ज्योतिबा फुले का योगदान, डॉ. बी.आर. अम्बेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय, महु ।
  13. 14 अगस्त 2021, मुख्य वक्ता, भारतीय स्त्रियों का अहिंसक प्रतिरोघ, मानविकी एवं उदार कला अंकाय, रबींद्रनाथ टैगौर विश्वविद्यालय, भोपाल ।
  14. 25 जुलाई 2021, मुख्य वक्ता, Sexual Harassment of Women at Workplace, मानव कल्याण समिति, गाजियाबाद, उत्तर-प्रदेश ।
  15. 25 जुलाई 2021, मुख्य वक्ता, Sexual Harassment of Women at Workplace, मानव कल्याण समिति, गाजियाबाद, उत्तर-प्रदेश ।
  16. 20 जून 2021, लॉक-डाउन में महिलाओं पर बढ़ती धरेलु हिंसा और यौन शोषण, शुद्रा फॉउनडेशन, नयी दिल्ली।
  17. 11 जून 2021, कोरोना का दूसरा प्रभाव: आधी दुनिया का आसमान, मगध विश्वविद्यालय, बोधगया, बिहार ।
  18. 04 मार्च 2021, मुख्य वक्ता, कोविड-19 और महिलाओं के खिलाफ हिंसा, डॉ. बी.आर. अम्बेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय, महु ।
  19. 4 नवंबर से 8 नवंबर 2020, लिंग समानता: महिला अधिकारिता, श्याम प्रसाद मुखर्जी शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, प्रयागराज।
  20. 27 जुलाई 2020 जलवायु परिवर्तन, COVID-19 और मानव संवेदनाएँ, हवाबाग कॉलेज, जबलपुर, मध्य प्रदेश ।
  21. 06 जुलाई 2020, मुख्य वक्ता, COVID-19 में जेंडर डायनेमिक्स और महिला अधिकार, राजकीय आर.एम. डी महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, अबिंकापुर एवं राजकीय आर.बी.आर महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, जसपुर, छतीसगढ़ का संयुक्त आयोजन ।
  22. 03 जुलाई 2020, मुख्य वक्ता, नेतृत्व में महिलाएँ: कोविड-19 और समान भविष्य की संभावनाएँ, डॉ. बी.आर. अम्बेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय, महु ।
  23. 13 जून 2020, COVID-19 के कारण सामाजिक समस्याएं और उनका समाधान, माखनलाल चतुर्वेदी शासकीय महाविद्यालय, बाबई, मध्य प्रदेश ।
  24. 12 जून 2020, भारत में COVID-19 महामारी का लिंग आयाम, बरकतउल्ला विश्वविद्यालय, भोपाल ।
  25. 4 मार्च, 2020, स्त्री सशक्तीकरण की चुनौतियां: वर्जनाएं एवं कुरीतियां, दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी, डॉ. भीमराव अंबेडकर समाज विज्ञान विश्वविद्यालय, महू, इंदौर ।
  26. 26 फरवरी, 2020, कस्तूर से बा बनने की अंतर्कथा, दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी, अहिंसा एवं शांति अध्ययन विभाग, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विशवविद्यालय, वर्धा ।
  27. 17-18 फरवरी, 2020, जेंडर संवेदनशीलता की प्रासंगिकता, जेंडर संवेदनशीलता कार्यशाला, डॉ. भीमराव अंबेडकर समाज विज्ञान विश्वविद्यालय, महू, इंदौर ।
  28. 13 फरवरी, 2020, मीडिया में स्त्रियों का प्रस्तुतिकरण, अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी, मातृ सेवा संघ समाज कार्य संस्थान, नागपुर।
  29. 21-22 जनवरी, 2020, विश्वविद्यालय परिसर में जेंडर समानता, दो दिवसीय कार्यशाला, जेंडर संवेदनशीलता समिति, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय  हिंदी विशवविद्यालय, वर्धा ।
  30. 15-16 दिसंबर, 2019, मीडिया में जेंडर प्रस्तुतिकरण, डॉ. भीमराव अंबेडकर समाज विज्ञान विश्वविद्यालय, महू, इंदौर ।
  31. 17 नवंबर, 2019, विनोबा की जीवन यात्रा में स्त्रियों की भूमिका, दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन, पवनार आश्रम, वर्धा ।
  32. 9 सितम्बर, 2019, गांधीजी का स्त्री समानता संबंधी दृष्टिकोण, श्यामा प्रसाद मुखर्जी कॉलेज, नई दिल्ली ।
  33. 15 अप्रैल, 2019, स्वाधीनता आंदोलन में स्त्रियों की भूमिका, महिला चरखा समिति, प्रभावती जयंती समारोह पटना ।
  34. 28-30 मार्च 2019, तीन दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी ‘जेंडर समानता की गांधीवादी दृष्टि: सत्ता, सामर्थ्य, संभावनाएं ।
  35. 8 मार्च, 2019, दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी ‘समेकित विकास कार्यक्रम एवं स्त्री सशक्तीकरण’ डॉ. भीमराव अंबेडकर समाज विज्ञान विश्वविद्यालय, महू, इंदौर ।
  36. 14 सितंबर, 2018, हिंदी दिवस का स्त्रीवादी परिपेक्ष्य, क्षेत्रीय केंद्र, कोलकाता, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय ।
  37. 14-15 अप्रैल, 2018, दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी ‘भारत में स्त्री अध्ययन: संभावनाएं एवं चुनौतियां’ हीरालाल रामनिवास स्नातकोत्तर महाविद्यालय, खलीलाबाद, गोरखपुर ।
  38. 05-08 मार्च, 2017, स्त्री अध्ययन विभाग, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा द्वारा ‘स्त्री के पक्ष में: सृजनात्मक प्रतिरोधी स्वर’ चार दिवसीय राष्ट्रीय परिसंवाद में 'स्त्री एवं रंगमंच' विषय पर व्याख्यान ।
  39. 20 दिसंबर 2016, राष्ट्र में युवा विषयक एक दिवसीय अभिविन्यास कार्यक्रम, म.गां.अं. हिं.वि. वर्धा में राष्ट्र में स्त्री विषय पर व्याख्यान ।
  40. 24 -25 नवंबर, 2016, खलीलाबाद महाविद्यालय में आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी में हिंदी साहित्य में स्त्री विमर्श, विषय पर बीज वक्तव्य ।
  41. 8 नवंबर, 2016, 'नारीवादी सिद्धांत एवं समाज में जेंडर की संरचना' विषय पर व्याख्यान, आयोजक, पत्रकारिता विभाग, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय ।
  42. 6 नवंबर, 2016, विशेष व्याख्यान 'स्त्री एवं मीडिया' जनसंचार विभाग, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा ।
  43. 7 अगस्त 2016, ओरेंज सिटी कल्चरल फाउंडेशन नागपुर द्वारा आयोजित एक दिवसीय फिल्म एप्रीशिएशन कार्यशाला में व्याख्यान ।
  44. 9 मार्च 2016, इंडिया पीस सेंटर नागपुर द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर LET ME SPEAK पर विशेष व्याख्यान ।
  45. 24 सितम्बर, 2009, विशेष व्याख्यान, मीडिया में स्त्री प्रस्तुतिकरण, एल..डी महाविद्यालय, नागपुर ।
  46. 6 सितम्बर, 2009, विशेष व्याख्यान, स्त्री सशक्तीकरण, जी.एस. कामर्स कॉलेज, वर्धा ।